Apne log news

No.1 news portal of Uttarakhand

मानसून के बाद केदारनाथ धाम की दूसरे चरण की यात्रा के लिए युद्ध स्तर पर चल रहे हैं काम। पढ़िए पूरी खबर

लखपत सिंह राणा

रुद्रप्रयाग। मानसून के बाद बाबा केदारनाथ धाम की दूसरे चरण की यात्रा को सफलतापूर्वक संचालित करने के लिए जिला प्रशासन रूद्रप्रयाग लगातार प्रयासरत है। मानसून के बाद यात्रा मार्ग में विभिन्न विभागों द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सुविधा एवं व्यवस्थाओं में जो कमी आयी है एवं वर्षा के कारण यात्रा मार्ग क्षतिग्रस्त हुआ है उसे जिलाधिकारी डॉ सौरभ गहरवार के निर्देशन में संबंधित विभागों द्वारा दुरुस्त एवं सुव्यवस्थित किया जा रहा है। भारी बरसात के चलते अवरुद्ध यात्रा मार्ग को सुधारने, बिजली एवं पानी की आपूर्ति समेत अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है।

अधिशासी अभियंता डीडीएमए विनय झिंकवाण ने बताया कि इस वर्ष मानसून के दौरान केदारनाथ यात्रा मार्ग में भारी बारिश व अतिवृष्टि के चलते यात्रा मार्ग कई स्थानों पर वाश आउट हो गया था एवं कई जगहों पर भारी बोल्डर आ गए थे जिसमें भैरव ग्लेशियर, कुबरे ग्लेशियर, हथनी ग्लेशियर, बडी लिंचोली, छोटी लिंचोली और भीमबली में सर्वाधिक नुकसान हुआ था। केदारनाथ धाम में दर्शन करने आ रहे तीर्थ यात्रियों की सुरक्षा एवं सुविधा के दृष्टिगत विभाग द्वारा यात्रा रूट पर बाधित स्थानों में श्रमिकों द्वारा तत्परता से मार्ग को आवाजाही हेतु खोला जा चुका है तथा सभी स्थानों पर नियमित तौर से मरम्मत कार्य तत्परता से चल रहा है। उन्होंने अवगत कराया कि लिन्चोली के समीप पूर्ण रूप से वाश आउट हो चुके मार्ग को दो दिन के भीतर कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। वहीं थारू बैंड पर पुश्ता एवं रास्ता लगभग बन कर तैयार हो चुका है एवं रेलिंग लगाने का कार्य गतिमान है। रामबाडा से जाने वाला मुख्य मार्ग एवं बाईपास दोनों मार्ग यात्रियों के लिए खुला है। वहीं हथनी ग्लेशियर पर यात्रा के लिए मार्ग सुचारू है, वाश आउट वाले स्थान पर मरम्मत कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि केदारनाथ यात्रा मार्ग तीर्थ यात्रियों की आवाजाही हेतु पूर्ण रूप से सुचारू है तथा यात्रा सफलतापूर्वक संचालित हो रही है।

केदारनाथ धाम में दर्शन करने आ रहे तीर्थ यात्रियों को साफ- स्वच्छ वातावरण उपलब्ध हो इसके लिए सुलभ इंटरनेशनल एवं केदारनाथ नगर पंचायत द्वारा यात्रा मार्ग एवं केदारनाथ धाम में निरंतर सफाई जा रही है। जल संस्थान द्वारा यात्रा मार्ग में क्षतिग्रस्त हुई पेयजल लाइनों को भी दुरुस्त किया जा रहा है एवं घोड़े खच्चरों के लिए गरम पानी की व्यवस्था भी मुहैया करवाई जा रही है।

अधिक पढ़े जाने वाली खबर

Share
error: Content is protected !!