Apne log news

No.1 news portal of Uttarakhand

केवल 130 रुपए के लिए किया गया था कत्ल। सोनाली पुल के नीचे मिले शव का खुलासा।

मनोज सैनी

रुड़की। एसएसपी, हरिद्वार श्री प्रमेंद्र डोभाल ने 4 मई को सोनाली पुल के नीचे मिले शव का खुलासा करते हुए बताया है कि आरोपी ने मात्र 130 रुपए के लिए इतनी बड़ी घटना को अंजाम दिया था साथ ही बताया की आरोपी और मृतक दोनों नशे के आदि थे। पुलिस ने आरोपी साजिद पुत्र अब्दुल गफ्फार निवासी इस्लामनगर रुड़की को गिरफ्तार कर लिया है।

कोतवाली रुड़की में एसएसपी, हरिद्वार श्री प्रमेंद्र डोभाल ने पत्रकारों को बताया की कोतवाली रुड़की क्षेत्रान्तर्गत 4 मई को सोनाली पुल के नीचे लहुलुहान अवस्था में एक शव होने की सूचना पर पहुंची पुलिस द्वारा मृतक की शिनाख्त नितिन उर्फ गुड्डू पुत्र नरेश कुमार निवासी 77 पश्चिमी अम्बर तालाब रूडकी के रूप में हुई थी। मृतक की किसी अज्ञात शख्स ने धारदार हथियार से निर्मम तरीके से हत्या की गई थी। प्रकरण के संबंध में मृतक के भाई गौरव पुत्र नरेंद्र निवासी 79 पश्चिम अंबर तालाब, गंगनगर की तहरीर पर कोतवाली रुड़की पर मुकदमा अपराध संख्या 303/24 धारा 302 आईपीसी के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया।

रुड़की क्षेत्र के अति व्यस्त सोनाली पुल पर इस प्रकार की सनसनीखेज़ घटना होने पर प्रकरण को बेहद गंभीरता से लेते हुए एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह द्वारा तत्काल फॉरेंसिक टीम द्वारा घटनास्थल से जरूरी साक्ष्य जुटाते हुए खुलासे के लिए 05 पुलिस टीमों का गठन कर शीघ्रता से घटना में सलिंप्त हत्यारे की धर पकड़ हेतु निर्देशित किया।

सीओ रुड़की नरेंद्र पंत एवं पुलिस टीम द्वारा गहनता से घटनास्थल को जाने-आने वाले सभी मार्गों से महत्वपूर्ण साक्ष्य एवं विभिन्न टीमों द्वारा एकत्रित की गई जानकारी में सामने आए तथ्यों के आधार पर हत्यारोपी की शिनाख्त इस्लामनगर रुड़की निवासी साजिद के रूप में की। आरोपी की धरपकड़ में जुटी टीम को जानकारी मिली कि शातिर हत्यारोपी पहले भी किसी मामले में जेल जा चुका है और बेहद शातिर है और पुलिस से बचने के लिए लगातार ठिकाने बदलने के साथ ही मोबाइल फोन के इस्तेमाल से भी परहेज करता है।

ऐसी परिस्थिती में मैन्युअल पुलिसिंग पर फोकस करते हुए मुखबिर तंत्र को एक्टिव करते हुए पुलिस टीम द्वारा मुखबिरों का जाल बिछाते हुए अजमेर दरगाह सहित विभिन्न संभावित स्थानों पर आरोपी की तलाश में छापेमारी की गई लेकिन सफलता नही मिल पायी। अधिकारियों द्वारा निरंतर की जा रही मॉनिटरिंग व पुलिस टीम द्वारा लगातार किए जा रहे प्रयासों के बीच 19 मई की रात मिली गुप्त सूचना पर टीम ने कलियर दरगाह क्षेत्र से हत्यारोपी को दबोचने में सफलता हासिल करते हुए अभियुक्त की निशांदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू को घटनास्थल के पास रेत के अंदर से बरामद किया।

ये थी हत्या की वजह

पूछताछ में पता चला कि दोनों (हत्यारोपी और मृतक) नशे के आदी हैं। एक सप्ताह पूर्व मृतक नितिन उर्फ गुड्डू ने छठवीं पास हत्यारोपी साजिद से मारपीट कर ₹130 रुपए छीन लिये थे। पैसे छीन लिए जाने एवं मारपीट से गुस्साये साजिद ने बदला लेने के लिए मृतक गुड्डू की तलाश शुरू कर दी। 4 मई को हत्यारोपी साजिद भांग की पत्तियाँ मलने सोलानी पुल के नीचे पहुंचा तो उसे वहीं भांग पीते हुए गुड्डू मिल गया। रुपए वापस मांगने पर इन्कार करने पर दोनों में मारपीट होने लगी तो पहले से ही गुस्से से भरे हुए आरोपी साजिद ने भांग के पौंधे को काटने के लिए रखे गए चाकू से मृतक पर एक के बाद एक कई वार कर दिए और उसे मरा हुआ समझ कर मौके से भाग गया।

अधिक पढ़े जाने वाली खबर

Share
error: Content is protected !!