Apne log news

No.1 news portal of Uttarakhand

भाजपाईयों के सिर चढ़ा सत्ता का नशा: शिवालिक नगर पालिका के ईओ, महिला कर्मचारियों के साथ की गाली गलौच, धक्का मुक्की और अभद्र व्यवहार और गार्ड के साथ मारपीट। तहरीर दबाकर बैठी रानीपुर कोतवाली पुलिस।

मनोज सैनी
हरिद्वार। सत्ता का नशा कैसे भाजपाइयों के सिर चढ़कर बोल रहा है इसकी बानगी शिवालिक नगर पालिका के कार्यालय में उस समय देखने को मिली जब शिवालिक नगर क्षेत्रांतर्गत नवोदय नगर में पथ प्रकाश व्यवस्था को लेकर शिवालिक नगर क्षेत्र के भाजपाईयों ने शिवालिक नगर पालिका कार्यालय में जाकर जमकर उत्पात मचाया और पालिका के अधिशासी अधिकारी और महिला कर्मचारियों के साथ अभद्रता, गाली गलौच और गार्ड के साथ मारपीट भी कर दी। ईओ और पालिका कर्मचारियों के साथ भाजपाइयों द्वारा की गई मारपीट, गाली गलौच और अभद्रता का यह मामला 9 मई की सुबह 11 बजे का है। पालिका कर्मचारियों द्वारा दी गई तहरीर को सत्ता के दबाव में आकर रानीपुर कोतवाल दबा कर बैठ गए है और उनका कहना है की मामले की जांच की जा रही है।

अधिशासी अधिकारी, शिवालिक नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी सुभाष कुमार से फोन पर हुई वार्ता में उन्होंने बताया कि निकाय चुनाव को लेकर शासन और प्रशासन के आदेशानुसार वे और उनके कर्मचारी दिन रात मतदाता सूची के कार्य में लगे हुए हैं। उन्होंने बताया की जनता की मांग पर उन्होंने नवोदय नगर में लाइट लगवाई थी और 9 मई की सुबह जब वह अपने ऑफिस में बैठे तो 11 बजे के लगभग कुछ भाजपाई नेता उनके कार्यालय में आए और उनसे अभद्रता और गाली गलौच करने लगे। शोर शराबा सुनकर कर्मचारी भी उनके ऑफिस में आ गए। उक्त भाजपाइयों ने उन सभी के साथ भी अभद्रता और गाली गलौच करते हुए धक्का मुक्की की और उन्हें बाहर जाने के लिए कहा और कार्यालय का दरवाजा भी बंद करने का प्रयास किया। इस बात पर मैने उनसे कहा की जो भी आपको बात कहनी है सबके सामने कहिए। उन्होंने उनकी एक बात नहीं सुनी और सबके साथ अभद्रता, गाली गलौच और जाते हुए गार्ड के साथ मारपीट भी की। जब ईओ साहब से पूछा की मामला क्या था तो उन्होंने बताया की मुझे भी नहीं मालूम की किस मामले में उन्होंने कार्यालय में आकर ये सब किया लेकिन उनकी बातों से लगा की नवोदय नगर में पथ प्रकाश को लेकर ही उन्होंने हंगामा किया। ईओ सुभाष कुमार ने बताया की 10 मई की सुबह जब पालिका के सफाई कर्मचारियों को मामले की जानकारी लगी तो वे सब आग बबूला हो गए और काम बंद करने की चेतावनी दी। इस पर ईओ ने उन्हें समझाया बुझाया तब कहीं जाकर वे शांत हुए।

मगर उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए रानीपुर कोतवाली में मंडल अध्यक्ष कैलाश भंडारी, युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष अंशुल शर्मा, देव विख्यात भाटी, गौरव गुर्जर, वेदांत चौहान समेत अज्ञात भाजपाईयों के खिलाफ लिखित में शिकायत दी है, पर पुलिस ने अभी तक मुकदमा दर्ज करना उचित नहीं समझा है। हैरानी की बात यह हैकि सरकारी कर्मचारियों की शिकायत के बाद पुलिस का यह रवैया है। कोतवाली प्रभारी विजय सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। शिवालिक नगर पालिका कार्यालय में हुए घटनाक्रम को लेकर भाजपा की सियासत गर्मा गई है। हंगामा करने वाला गुट पूर्व पालिकाध्यक्ष राजीव शर्मा से जुड़ा हुआ है और एक विधायक का गुट इस पूरे मामले को हवा देने में जुट गया है।

अधिक पढ़े जाने वाली खबर

Share
error: Content is protected !!